Thursday, 18 June 2015

सब्सिडी और आपका पैसा

रसोई गैस सब्सिडी के नाम पर जनता को किस प्रकार लूटा जा रहा है इसका एक मामला गोरखपुर मे सामने आया है जिसके मुताबिक गैस एजन्सि के ऑपरेटर द्वारा उपभोक्ताओ के खाता नंबर की जगह अपना खाता नंबर दे दिया गया जिसके कारण उपभोक्ताओ के खाते मे जाने वाला अनुदान ऑपरेटर के अकाउंट मे जाने लगा करीब 6 महीने से ऐसा होता रहा।  ऐसी हेरा फेरी 1-2 नहीं बल्कि 250 से अधिक लोगो के साथ की गयी।  जब लोगो के अकाउंट मे सब्सिडी का पैसा नहीं आया तो इस बारे मे शिकायत प्राप्त हुई।  जिस पर कार्यवाही करते हुए जांच मे ऐसा पाया गया कि ऐसे मामले और भी हो सकते हैं।  इसलिए अगर किसी उपभोक्ता के खाते मे अनुदान राशि प्राप्त न हो रही हो तो इसकी शिकायत गैस कंपनी के एरिया मैनेजर को कर सकते हैं।  साथ ही फोन नंबर 18002333555 पर भी इस तरह की शिकायत दर्ज़ कारवाई जा सकती है।  

इस तरह की गड़बड़ी कई एजेंसियो द्वारा की जा सकती है।  ऐसी गड़बड़ी को रोकने के लिए उपभोक्ताओ का जागरूक होना जरूरी है।  साथ ही सरकार को भी यह सुनिश्चित करना चाहिए कि एक ही खाते मे अनुदान जाने की अधिकतम संख्या तय की जाए जिससे कि इस तरह की हेरा-फेरी रोकी जा सके ।  बैंक अधिकारियों और कर्मचारियों को भी खाते मे जाने वाली अनुदान की राशि की समय समय पर जांच करनी चाहिए।  

ऐसी गड़बड़ी एक से अधिक अकाउंट खुलवा कर भी की जा सकती है, सरकार और बैंक को यह सुनिश्चित करना चाहिए कि सब्सिडी की सही राशि सही उपभोक्ता तक ही पहुंचे । 

No comments:

Post a Comment