Thursday, 21 May 2015

विभिन्न कोटे के तहत कन्फ़र्म ट्रेन टिकिट

जब आपको ट्रेन से यात्रा करना जरूरी हो और ट्रेन का टिकिट वेटिंग मे हो तो  ट्रेन मे यात्रा करना बहुत मुश्किल हो जाता है।  समय समय पर यात्रियों की सुविधाओ के लिए सरकार की तरफ से कदम उठाए जाते हैं लेकिन फिर भी यात्रियों की संख्या को देखते हुए ये सुविधाएं कम ही होती हैं।  ट्रेन मे वीवीआईपी कोटा भी होता है और अक्सर यात्रियों को लगता है कि केवल VVIP या नेता-मंत्रियों के टिकट ही इस कोटे के तहत कंफर्म होते हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं कि  रेलवे मे 17 अलग-अलग तरह के कोटे हैं जिनके तहत कंफर्म ट्रेन टिकट पाने की संभावना बढ़ा सकते हैं। 

उच्च अधिकारी  या हैड्क्वार्टर कोटा (HO):  ये कोटा रेलवे मे काम करने वाले उच्च अधिकारियों को दिया जाता है। इसके लिए संबंधित पद का प्रूफ होना जरूरी है। 

रेल एम्प्लॉईस या प्रीवीलेज कोटा (RE): इस कोटे का लाभ रेलवे कर्मचारी और उनके परिजनो को दिया जाता है । रेलवे पास या प्रिवीलेज  पास का होना अनिवार्य है ।

ड्यूटि पास कोटा (DP): केवल रेलवे कर्मचारियों को अपनी सेवाएँ प्रदान करने के लिए दिया जाता है।  इसके लिए ऑन ड्यूटि का प्रूफ होना अनिवार्य है।  ट्रेन मे ऐसी सीटो की संख्या लगभग 20 होती है।  

पार्लियामेंट हाउस कोटा (PH): संसद सदस्य, केंद्रीय/राज्य सरकार के मंत्री, सुप्रीम/हाइ कोर्ट के जज, विधायक आदि पार्लियामेंट हाउस कोटे के अंतर्गत आते हैं।  इसके लिए सरकार द्वारा जारी किया गया आईडी प्रूफ /सर्टिफिकेट होना जरूरी है । 

रक्षा क्षेत्र से संबन्धित लोगो के लिए (DF):  भारतीय वायुसेना, जलसेना, थल सेना, सीआरपीएफ़ तथा रक्षा क्षेत्र से जुड़े लोगो के लिए ।  रिटायर्ड डिफेंस अधिकारी भी इस कोटे का लाभ ले सकते हैं । इसके लिए डिफेंस आईडी प्रूफ/ नंबर/ वॉरेंट या फोरम डी की आवश्यकता है। 

लेडिज कोटा (LD): 45 साल से अधिक उम्र की महिला को दिया जाता है लेकिन अगर महिला गर्भवती हो तो उम्र की कोई सीमा नहीं है। आवशयक दस्तावेजो मे - उम्र का प्रमाण पत्र,  गर्भवती महिला के केस मे डॉक्टर द्वारा जारी किया गया दस्तावेज़ 

विकलांग कोटा (HP):  40% या उससे अधिक अक्षम व्यक्ति को यह कोटा प्रदान किया जाता है।  विकलांग कोटे का लाभ उठाने के इच्छुक व्यक्ति को रेलवे से इसके लिए प्रमाण पत्र लेना होता है।  

वरिष्ठ नागरिक (Senior Citizen -SS): इस कोटे का लाभ लेने के लिए पूरुष की उम्र  60 साल से अधिक तथा महिला की उम्र 58 साल से अधिक होना अनिवार्य है।   इसके लिए जन्म प्रमाण पत्र एक जरूरी दस्तावेज़ है।  

रोड साइड या रिमोट लोकेशन कोटा (RS): ऐसे स्टेशन जो कम्प्युटराइस्ड सिस्टम से जुड़े न हो वहाँ इस तरह के कोटे का प्रावधान है।  एक्सप्रेस और मेल ट्रेन मे इस तरह के कोटे का प्रावधान होता है।  

युवा /बेरोजगारी कोटा  (YU): 15-45 साल के बेरोजगार लोगो को इस कोटे का लाभ  दिया जाता है। इसके लिए जन्म प्रमाण पत्र, सरकारी रोजगार विभाग या नरेगा के तहत जारी दस्तावेज़ होना अनिवार्य है। 

विदेशी नागरिकों के लिए (फ़ॉरेन टुरिस्ट -FT): विदेशी नागरिकों को विशेष सेवायें प्रदान करने के लिए इस कोटे का प्रावधान है।  इसके लिए यात्री के पास पासपोर्ट, वीज़ा और संबन्धित देश का आईडी प्रूफ होना अनिवार्य है । 

No comments:

Post a Comment