Thursday, 19 February 2015

बिजली की दरें 15 फीसदी बढा सकता है DERC, दिल्ली में महंगी हो सकती है बिजली

आजतक की वेबसाइट से ली गयी इस खबर के अनुसार, केजरीवाल सरकार हर रोज एक के बाद एक अपने चुनावी वादों को पूरा करने की कोशिश में लगी हुई है| लेकिन इस बीच आम आदमी पार्टी को DERC को बिजली का करंट लग सकता है|
टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के मुताबिक DERC बिजली की दरें 10 से 15 फीसदी बढा सकता है| बिजली की दरें बढ़ाने पर DERC ने कहा है कि बिजली का लागत मूल्य बढ़ गया है| आम आदमी पार्टी ने चुनाव में बिजली के दाम 50 फीसदी घटाने का वादा किया था|
पिछले साल नवंबर में दिल्लीवासियों को महंगी बिजली का करंट नहीं लगा था क्योंकि उस समय DERC ने खरीद समायोजन शुल्क (पीपीएसी) को घोषणा के एक गदिन बाद ही वापस ले लिया था| लेकिन एक बार फिर दिल्ली वालों को महंगी बिजली मिलने की उम्मीद है क्योंकि पीपीएसी अब छह महीनों के लिए एक नियामक संस्था द्वारा तय किया जाएगा. अगले महीने ऐसा कोई फैसला आ सकता है|
अनुमान है कि पीपीएसी के बढ़ने से बिजली की दरें 10 से 15 फीसदी बढ़ जाएंगी| इसके अलावा DERC ने यह भी इशारा किया कि 2015-16 के वितरण के टैरिफ के लिए भी जांच चल रही है और संशोधित टैरिफ के अप्रैल तक एलान होने की संभावना है| DERC शुल्कों में बढ़ोत्तरी की अनुमति करता है, जिससे बिजली दरों में 50 प्रतिशत तक की कमी करने में दिक्कत होगी|


For more updates, follow us on twitter @newsexcuse

No comments:

Post a Comment