Thursday, 20 November 2014

सतलोक आश्रम मे मिले चौकने वाले तथ्य

हिसार , बरवाला के विवादित संत रामपाल के आश्रम को लेकर एक और सनसनीखेज खुलासा हुआ है। रामपाल की गिरफ्तारी के बाद बुधवार देर रात जब पुलिस ने आश्रम की तलाशी ली तो उसके होश उड़ गए। तलाशी के दौरान पुलिस ने महिला शौचालयों से कंडोम, खूफिया कैमरे, नशीली दवाएं, जहरीली गैसें और भारी तादाद में अश्लील साहित्य बरामद किया है। आश्रम में महिलाओं पर कैमरे से नजर रखी जाती थी। आश्रम के मुख्य द्वार के साथ बने महिला शौचालय के बाहर लगे कैमरे का मुंह भी अंदर की तरफ किया गया था।

पुलिस सूत्रों के अनुसार बुधवार को आश्रम से बाहर आई महिलाओं ने भी चौकाने वाले खुलासे किए हैं। महिलाओं का कहना था कि रामपाल के कमांडो उनसे दुराचार करते थे। विरोध करने पर कई दिनों तक पहनने को कपड़ा तक नहीं दिया जाता था। ऎसी जगह रखते थे कि किसी तक भी उनकी आवाज नहीं पहुंच पाती थी। उनके चेहरों पर सूजन और चोटों के निशान देख साफ लग रहा था कि उन्हें किन हालात में बंधक बनाकर रोका गया था। आश्रम से बाहर आए समर्थकों ने बताया कि उन्हें एक एक टाइम भोजन दिया जाता था। बच्चों के लिए दूध भी नहीं था। जब खाना और दूध मांगते थे तो उन्हें दुत्कार मिलती थी।

लोगो को परमात्मा के दर्शन होंगे और प्रसाद में पैसे मिलेंगे ऐसा झांसा दिया । लोग परिवार के साथ आ गए। 5 नवंबर को आश्रम में प्रवेश के समय ही उनका सारा सामान जिसमे सोने की अंगूठी, चेन और महिलाओं के जेवर भी थे और साथ ही सारा पैसा भी ले लिया गया । बच्चों और महिलाओं को भी अलग कर दिया गया। लोगो के मुताबिक उन्हे प्रसाद दिया गया था। उसे खाने के थोड़ी ही देर बाद ही नशा हो गया और फिर क्या हुआ किसी को कुछ नहीं मालूम । प्रसाद ऎसा होता था कि उससे दिमागी संतुलन ही बिगड़ जाता है।

वहीं दूसरी ओर सूत्र 12 एकड़ में फैले रामपाल के आश्रम को अवैध बताते हैं। सूत्रों का कहना है कि रामपाल का आश्रम कैसे खड़ा हो गया ये आज तक कोई समझ नहीं पाया। आश्रम के कागज खंगाले गए तो तब इसके अवैध होने का पता चला।

No comments:

Post a Comment