Monday, 10 November 2014

छात्रों के लिए यूजीसी का तोहफा

ओपन या डिस्टेंस लर्निंग (दूरस्थ पाठ्यक्रम) के माध्यम से उच्च शिक्षा की डिग्री दिलाने का दावा करने वाले फर्जी विश्वविद्यालयों को लेकर यूजीसी सख्त हो गया है। यूजीसी ने छात्रों को फर्जी विश्वविद्यालयों एवं इंस्टीट्यूट से सावधान रहने की हिदायत दी है और साथ ही यह भी जानने को कहा है कि वह यह जरूर जान लें कि जिस इंस्टीट्यूट से वह पढ़ रहे हैं उसे यूजीसी की मान्यता है या नहीं। । यूजीसी ने स्पष्ट किया है कि ऐसी डिग्रियां मान्य नहीं होगी। अभी देश मे इनमें कुल 21 विश्वविद्यालयों के नाम शामिल हैं। ये विवि यूजीसी से संबद्ध नहीं हैं। इनमें बिहार, दिल्ली, कर्नाटक, केरल, महाराष्ट्र, तमिलनाडू, पश्चिम बंगाल, उत्तर प्रदेश समेत पड़ोसी राज्य में भी ऐसे फर्जी विश्वविद्यालय संचालित हैं।

इन संस्थानों पर रोक लगाने के लिए यूजीसी ने फर्जी इंस्टीट्यूट्स के नाम अपनी वेबसाइट पर जारी किए हैं और तमाम विश्वविद्यालयों को भी इसकी जानकारी/नोटिस भेजे गये है, ताकि वे अपने यहां अध्ययनरत छात्रों इसके बारे मे अवगत कराएं। इसे जानने के लिए छात्र यूजीसी की वेबसाइट पर सर्च कर सकते हैं। यूजीसी सचिव की ओर से जारी नोटिस में छात्रों को यह भी सलाह दी गई है कि छात्र केवल उसी इंस्टीट्यूट या यूनिवर्सिटी में दाखिला लें जो उनकी न्यायिक क्षेत्र में आता हो।

No comments:

Post a Comment